ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
आमिर खान की बेटी इरा का खुलासा '14 साल की उम्र में हुआ था शारीरिक शोषण'
November 2, 2020 • Raj Kumar Mali

बॉलीवुड एक्टर आमिर खान की बेटी इरा खान सोशल मीडिया पर अपनी बोल्ड फोटोज की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहती हैं. कुछ दिन पहले ही इरा ने अपने डिप्रेशन के खुलासे को लेकर खबरों में थीं. अब इरा ने एक वीडियो शेयर कर अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर एक चौंकानेवाला खुलासा किया है. इस वीडियो में उन्‍होंने आमिर खान और अपनी मां रीना दत्‍ता के तलाक पर भी पहली बार बात की है.इरा ने वीडियो में कहा कि वह बहुत सोती थी लेकिन उसे इसका एहसास नहीं था. वह बिना किसी कारण के हर समय रोती रहती और अपने व्यवहार के साथ अपना मूड खराब करने से बचने के लिए अपने दोस्तों से मिलने की अपनी सारे प्‍लान्‍स कैंसल कर देती थीइरा ने वीडियो में खुलासा किया कि, जब वह 14 साल की थीं तब उनका शारीरिक शोषण हुआ था. उस समय उन्‍हें नहीं पता था कि वो शख्स क्या कर रहा है. इस बात को समझने में उन्‍हें एक साल लग गया. उन्‍हें पता नहीं था कि इसके पीछे उस आदमी का क्‍या इरादा था. इसके बाद इरा खान ने इसके बारे में अपने माता पिता का बताया जिसके बाद चीजें धीरे धीरे ठीक होने लगी. हालांकि अब उन्‍हें इस बारे में सोच सोच कर गुस्‍सा आता है कि ऐसा मैंने कैसे होने दिया.इरा ने अपने वीडियो में कहा कि सौहार्दपूर्ण तलाक भी उसके लिए एक विशेषाधिकार था. उन्‍होंने कहा,' मेरे माता-पिता जुनैद और मेरे लिए, तलाक के बाद भी पेरेंट्स के तौर पर बहुत अच्छे थे. लोग कहते थे ' ओह आपके पेरेंट्स के तलाक के बारे में सुनकर बुरा लगा', तो मैं कहती थी कि ‘आप क्‍या कह रहे हैं? यह कोई बुरी बात नहीं है. यह कुछ ऐसा हो सकता है जो आपको डरा सकता है. इसने मुझे नहीं डराया. मुझे ज्‍यादा बातें याद नहीं है, लेकिन मुझे ऐसा नहीं लगा कि मेरे माता-पिता का तलाक कुछ ऐसा है जो मुझे परेशान कर सकता है.'अपने वीडियो के कैप्शन में इरा ने लिखा, 'मुझे अभी भी लगता है कि मेरा एक छोटा सा हिस्सा है जो सोचता है कि मैं यह सब कर रही हूं, बुरा महसूस करने के लिए कुछ भी नहीं है हर बात पर प्रतिक्रिया देना जरूरी नहीं. पुरानी आदतें मुश्किल से जाती हैं. मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मेरे पास कितने लोग हैं, मेरे पिताजी के कारण लोग कितने अच्छे हैं, क्योंकि वे मुझसे प्यार करते हैं और मेरी परवाह करते हैं... क्या मुझे नहीं उठना चाहिए और चीजों को ठीक करने की कोशिश करनी चाहिए? और अगर मैं खुद के लिए ऐसा नहीं कर सकती? क्या मुझे मदद नहीं मांगनी चाहिए?”