ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
बिना विनय के धर्म की शुरुआत नही होने वाली - प्रवर्तक सुकनमुनि
November 22, 2020 • Raj Kumar Mali

भीलवाड़ा हलचल। शास्त्रीनगर विनय ही धर्म का मूल है इसके बिना धर्म की शुरूआत नही हो सकती प्रवर्तक सुकनमुनि मुनि महाराज ने अहिंसा भवन शास्त्रीनगर मे आयोजित धर्मर्चा को दौरान सम्बोधित करतें हुयें कहें उन्होंने ने कहां कि विनय ऐसा गुण है, जो किसी को शत्रु नहीं बनने देता।

उलटे शत्रुता रखने वाले इंसान को भी मित्र बना डालने की क्षमता रखता है।विनयी व्यक्ति हमेशा यश-कीर्ति का पात्र होता है। इसलिए उसे धर्म का मूल कहा गया है! डॉक्टर वरूण मुनि ने कहां कि बिना विनय के मुक्ति नहीं मिलने  वाली  अब अपना अवगुण दिखने लग तो समझो की आत्मा संसार से तिर वाली है! अखिलेश मुनि ने भजन के द्वारा भाव रखें !अहिंसा भवन के मन्त्री रिखबचन्द्र पीपाड़ा ने बताया की इस दौरान जावरा ,आगुचा , एवं  महाराष्ट्र से अहमद नगर तथा अरहिंत भवन आर के कॉलोनी  अध्यक्ष अशोक खटोड़ मन्त्री शांतिलाल खमेसरा ने  प्रवर्तक सुकनमुनि आदि संतों की चातुर्मास समाप्त होने बाद अपने क्षेत्रों मे पधारने की विनती रखी ! मीडिया प्रवक्ता सुनिल चपलोत ने बताया कि नियमित धर्मर्चा 9 बजे से 10 बजे तक अहिंसा भवन मे रहेगी !