ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
हलवाइयों ने इम्यूनिटी बूस्टर मिठाइयां बनाई
November 12, 2020 • Raj Kumar Mali

  दिल्ली  : कोरोना के कहर को कमजोर करने की कोशिश में हलवाइयों ने इम्यूनिटी बूस्टर मिठाइयां बनाई हैं, जिन्हें ग्राहक इस इस त्योहारी सीजन में खूब पसंद कर रहे हैं। इम्यूनिटी बूस्टर मिठाइयों में सोंठ, तुलसी, अजवाइन, इलायची, काली मिर्च, अदरख, कलोंजी, अश्वगंधा के साथ-साथ गिलोई और हल्दी का भी इस्तेमाल किया गया है।

कोरोना काल में बदलते हालात में सेहत के प्रति लोग ज्यादा संवेदनशील हो गए हैं और वे खाने-पीने की चीजों की सामग्री में इम्यूनिटी बूस्टर यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले घटकों को ज्यादा पसंद कर रहे हैं। लिहाजा छोटे हलवाइयों की दुकानों से लेकर ब्रांडेड स्वीट्स शॉप में इम्यूनिटी बूस्टर मिठाइयां खासतौर से लाई गई हैं और कारोबारी बताते हैं कि त्योहारी सीजन में इनकी खूब मांग है।फेडरेशन ऑफ स्वीट्स एंड नमकीन मैनुफैक्च र्स (एफएसएनएम) डायरेक्टर फिरोज नकवी ने बताया कि इस बार दिवाली पर इम्यूनिटी बूस्टर मिठाइयों की जबरदस्त मांग है। उन्होंने कहा कि कोरोना की लड़ाई में हलवाई भी पीछे नहीं है और उन्होंने लोगों की सेहत को ध्यान में रखते हुए कोरोनावायरस के प्रकोप से बचाव के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता वाली मिठाइयां बनाई हैं।नकवी ने बताया कि, "मिठाइयों में हल्दी, गिलोई, इलायची, नारियल, गोंद से लेकर इम्यूनिटी बूस्टर तमाम मसालों और ड्राई फ्रूट्स का इस्तेमाल किया जा रहा है। छेना की मिठाई से लेकर काजू कतली और लड्डू समेत तमाम मिठाइयों में तरह-तरह की इम्यूनिटी बूस्टर सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है।" ब्रांडेड मिठाई के कारोबारी बताते हैं कि खासतौर से इम्यूनिटी बूस्टर लड्डू की मांग ज्यादा हो रही है। नोएडा, गाजियाबाद और मेरठ समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मिठाई का मशहूर ब्रांड मिठास ने तरह-तरह के इम्यूनिटी बूस्टर लड्डू बनाए हैं।मिठास स्वीट्स एंड रेस्टोरेंट प्राइवेट लिमिटेड के एमडी पुष्पेंद्र शर्मा ने बताया कि उन्होंने आटा लड्डू, बेसन लड्डू, पंजीरी लड्डू, गोंद लड्डू, ड्राई फ्रूट्स लड्डू, में इम्यूनिटी बूस्टर सामग्री का इस्तेमाल किया है। उन्होंने बताया कि इम्यूनिटी बूस्टर के तौर पर मिठाइयों में सोंठ, तुलसी, अजवाइन, इलायची, काली मिर्च, अदरख, कलोंजी, अश्वगंधा, देसी घी, केसर आदि का इस्तेमाल किया जाता है। शर्मा ने बताया कि उन्होंने काजू के साथ बेरी मिलाकर एक खास प्रोडक्ट बनाया है जिसे डिलाइट नाम दिया गया है और इसकी खूब मांग देखी जा रही है।