ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
हिस्ट्रीशीटर के भाई ने ही बाल अपचारी के साथ मिलकर की थी चोरी, आरोपित गिरफ्तार, बाल अपचारी निरुद्ध, गहने बरामद
October 24, 2020 • Raj Kumar Mali

  भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। ग्रेनाइट की दलाली करने वाले एक व्यक्ति के रायपुर घाटी स्थित सूने मकान में दिनदहाड़े हुई चोरी का रायपुर पुलिस ने खुलासा करते हुये हिस्ट्रीशीटर के भाई को गिरफ्तार, जबकि साथी बाल अपचारी को निरुद्ध किया है। पुलिस ने बाल अपचारी की सूचना पर चोरी किये चांदी के गहने बरामद कर लिये, जबकि नकदी बरामद करने के लिए आरोपित से पुलिस गहन पूछताछ कर रही है।
रायपुर थाना प्रभारी नारायण सिंह ने बीएच को बताया कि  मूल रूप से सावर और अभी रायपुर घाटी में रहने वाला ओमप्रकाश भाट ग्रेनाइट की दलाली के साथ-साथ जमीनों की खरीद-फरोख्त का कार्य करता है। वह पत्नी के साथ किराये के मकान में रह रहा है। मंगलवार को वह अपनी बकरियां लेकर मेहबूब के घर चला गया, जबकि उसकी पत्नी खेत पर गई हुई थी। मेहबूब का बेटा जो कि भाट की बकरियों को अपनी बकरियों के साथ चराता था, वह बक रियां लेकर चराने के लिए चला गया। इसके बाद भाट, मेहबूब के घर पर बैठ गया। इस बीच मेहबूब का दूसरा बेटा आया, जो माचिस लेकर चला गया। इस दौरान दो दफा भाट उठकर जाने लगा तो मेहबूब ने उसे यह कहते हुये कि बाद में चले जाना, पुन: बैठा लिया। इस बीच, भाट के घर पर दोपहर बारह से डेढ़ बजे के बीच चोरी हो गई। चोर, एक लाख रुपये नकद, पर्स में पड़े 2500 रुपये, कान के टोप्स, चांदी के पायजैब,   चांदी का एक बड़ा सिक्का, चांदी की दो अंगुठियां, आधा किलो चांदी का कंदोरा चोरी हो गया। चोर, एक इकरारनामा भी चुरा ले गये, जो अन्य पांच इकराननामा के बीच रखे थे। चोरों ने बक्सा भी तोड़ दिया। 
भाट का कहना है कि यह इकरारनामा भूखंड का था, जो उसने मेहबूब से 50 हजार रुपये में खरीदा था। ऐसे में भाट ने शंका जाहिर की है कि मेहबूब के ही बेटे ने यह चोरी की है।  भाट ने इस संबंध में पुलिस को रिपोर्ट देकर कार्रवाई की मांग की है। सिंह का कहना है कि मामले की जांच दीवान हनुमान सिंह ने की। इसके बाद शनिवार को इस मामले में मूलतया देवगढ़ हाल रायपुर घाटी निवासी मेहबूब के बेटे आरिफ मोहम्मद पठान को गिरफ्तार कर एक बाल अपचारी को निरुद्ध किया। सिंह ने बताया कि आरोपित आरिफ का भाई हिस्ट्रीशीटर बताया गया है, जो अभी जेल में है। आरिफ का पीडि़त के घर आना-जाना था। 
वारदात के बाद बांट ली थी राशि और गहने
जांच अधिकारी हनुमान सिंह ने बीएच को बताया कि भाट के घर वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित आरिफ मोहम्मद पठान व बाल अपचारी ने रायपुर से करीब दो किलोमीटर दूर बिकाणी के रास्ते पर चोरी किये माल का बंटवारा कर लिया। आरिफ ने नकदी व सोने के गहने अपने पास रखे, जबकि चांदी के गहने उसने बाल अपचारी को दे दिये। 
गड्ढे में दबा दिये गये, पुलिस ने किये बरामद
पुलिस का कहना है कि बंटवारे के बाद बाल अपचारी ने बिकाणी के रास्ते पर सरकारी पड़त जमीन पर गड्ढा खोदकर चांदी के गहने उसमें दबा दिये थे। पूछताछ में बाल अपचारी ने गहनों की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने बाल अपचारी की निशानदेही से गड्ढे में दबाकर रखा चांदी का कंदौरा, पायल, दो अंगूठी, चांदी का बड़ा सिक्का बरामद कर लिया। शेष माल की बरामदगी के प्रयास पुलिस कर रही है। 
ये थे टीम में
रायपुर थाना प्रभारी नारायण सिंह, दीवान हनुमान सिंह, कांस्टेबल जसंवत सिंह व राधेश्याम ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया।