ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
कलक्टर ने की पंचायतीराज योजनाओं की समीक्षा
October 20, 2020 • Raj Kumar Mali

 चित्तौड़गढ़  हलचल। जिला कलक्टर के.के. शर्मा की अध्यक्षता में मंगलवार को जिला परिषद ग्रामीण विकास अभिकरण सभागार में ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज योजनाओं की समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

जिला कलक्टर के.के. शर्मा ने विकास अधिकारियों से मनरेगा कार्यों, 100 दिवस, एवरेज वेज रेट, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), मेशन ट्रेनिंग, स्वच्छ भारत मिशन में शोचालय निर्माण एवं भुगतान, 14वां वित्त आयोग, 15वां वित्त आयोग, कोरोना के विरूद्ध जन जागरूकता अभियान की समीक्षा की। 

उन्होंने विकास अधिकारियों से कहा कि मनरेगा कार्यों, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) को प्राथमिकता देते हुए इन पर फोकस करें। विकास अधिकारी विभिन्न योजनाओं के लक्ष्य प्राप्त करने के लिए गंभीरता से कार्य करें। उन्होंने विकास अधिकारी को प्रधानमंत्री आवास योजना के लक्ष्यों को पूर्ण कराने के संबंध में निर्देशित किया। उन्होंने मनरेगा में श्रमिक बढ़ाने के निर्देश दिए।

 

कोरोना जन जागरूकता अभियान में विकास अधिकारियों की भूमिका अहम

 

जिला कलक्टर के.के. शर्मा ने विकास अधिकारियों से राज्य सरकार द्वारा कोरोना के विरूद्ध चलाए जा रहे जन जागरूकता अभियान में अहम भूमिका निभाकर कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने विकास अधिकारियां को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरपंचों से संवाद कर जन जागरूकता का संदेश पहुंचाने के लिए निर्देशित किया।

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्ञानमल खटीक तथा अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने मनरेगा कार्यों, 100 दिवस, एवरेज वेजरेट, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), मेशन ट्रेनिंग, आवास प्लस, स्वच्छ भारत मिशन में शोचालय निर्माण एवं भुगतान, 14वां वित्त आयोग, 15वां वित्त आयोग, सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना, विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास योजना, जन सूचना पोर्टल पर इन्द्राज करने सहित विकास योजनाओं की समीक्षा की एवं लक्ष्यानुसार प्रगति अर्जित करने के विकास अधिकारियों को निर्देश दिए।

अतिरिक्त कलक्टर (भू.अ.) अम्बालाल मीणा ने विकास अधिकारियों को जिले की ओवर ऑल रेंकिंग बढ़ाने के संबंध में निर्देशित किया। उन्होंने राजस्थान संपर्क पोर्टल के प्रकरणों, जिला कलक्टर की जन सुनवाई, मुख्यमंत्री कार्यालय से प्राप्त ब्लू लेटर के परिवादों, मानवाधिकार आयोग के परिवादों के निस्तारण के संबंध में विकास अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

बैठक में जिले के समस्त विकास अधिकारीगण एवं संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे।