ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
मंगरोप में घास बावजी खिंचने का आयोजन हुआ
November 16, 2020 • Raj Kumar Mali • भीलवाड़ा हलचल
 

मंगरोप(मुकेश खटीक)गांव में घास बावजी को खींचने की परम्परा लगभग 158 वर्षो से चली आ रही है।सुनील सोलंकी ने हलचल को बताया कि दीपावली के दूसरे दिन ठीकरे पर घास बावजी की सवारी को पूरे गांव में घुमाने की परम्परा हैं जो सदियों से चली आ रही है।जिसका आज भी नई पीढ़ी तक निर्वहन कर रही है।घास बावजी में करीब पांच क्विंटल वजन होता है।यह आयोजन शीतला माता चौक से रात्रि 10 से 10.30 बजे बाद शुरू किया जाता हैं।जानकारी के अनुसार घास बावजी को ट्रेक्टर के टायर पर विराजित कर करीब तीस फ़ीट लंबी रस्सी से कई लोगो द्वारा दम खम लगाकर खिंचा जाता है।जहाँ पर सवारी रुक जाती है।वहा मकान मालिक को उठाकर उससे घास बावजी पर तेल और अगरबत्ती जलवाई जाती है।तब घास बावजी की सवारी आगे बढ़ती है।सवारी को गांव के मुख्य चौरायो से खिंचते हुए अपने गंतव्य स्थान पर पुनः स्थापित किया जाता हैं।