ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
रिश्वत लेते पकड़े गए परिवहन मंत्रालय के अफसर के घर मिले 47 लाख, गुप्त लॉकर में छिपा रखा था; 3 लग्जरी कारें भी मिली
November 6, 2020 • Raj Kumar Mali • प्रदेश हलचल

जयपुर । पेट्रोल पंप की एनओसी देने की एवज में 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार हुए मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवेज के टेक्नीकल असिस्टेंट सीताराम वर्मा के घर चली सर्च में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने करीब 48 लाख रुपए बरामद किए हैं। इस रकम को सीज कर दिया गया है। वर्मा ने यह मोटी रकम अपने घर में एक अलमारी के बेस में गोपनीय तरीके से बना रखे लॉकर में छिपा रखी थी। इन नोटों को गिनने के लिए एसीबी को मशीन मंगवानी पड़ी। इस सर्च कार्रवाई में पांच से छह एसीबी के कर्मचारियों को लगाया गया।

एसीबी के एडीजी एमएन दिनेश ने बताया कि सीताराम का जयपुर में 4 मंजिला मकान है, जो कि अपने एक अन्य मकान के पास निर्माणाधीन है। सर्च कार्रवाई में उसके घर में तीन लग्जरी गाड़ियां होना सामने आया है। इसके अलावा कई भूखंडों के दस्तावेज और कई बैंक अकाउंट होने की भी जानकारी सामने आई है। एसीबी को सीताराम वर्मा के घर से एक लॉकर की चाबी मिली है। इस लॉकर को एसीबी शुक्रवार को खुलवाएगी। ऐसे में माना जा रहा है कि लॉकर में भी गहने और नकद बरामद होगी।

आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज होगा

यह आय कहां से अर्जित हुई। इसके संबंध में सीताराम वर्मा और उनका परिवार कोई ठोस जवाब नहीं दे सका। एडीजी दिनेश एमएन ने बताया कि सीताराम वर्मा के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति दर्ज का केस दर्ज किया जाएगा।

गौरतलब है कि एसीबी ने गुरुवार दोपहर में अजमेर रोड डीसीएम स्थित मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवेज के ऑफिस में दबिश देकर एक्सईएन दानसिंह मीणा और टेक्नीकल सहायक सीताराम वर्मा को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया था। आरोपियों के खिलाफ बुधवार को बीकानेर निवासी पीड़ित ने शिकायत दर्ज करवाई थी।

जिसमें बताया था कि बीकानेर के नोखा में हाइवे पर उसके पेट्रोल पंप के लिए एनओसी देने की एवज में 50 हजार रुपए की रिश्वत मांगी जा रही है। जिसका सत्यापन करने के बाद एएसपी नरोत्तम वर्मा और पुलिस इंस्पेक्टर नीरज भारद्वाज के नेतृत्व में एसीबी टीम ने कार्रवाई की। इनमें दानसिंह मुंबई से आईआईटी कर चुका है। वह महज 27 वर्ष का है और इंडियन इंजीनियरिंग सेवा में चयनित हुआ था।