ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
शुद्ध के लिए युद्ध अभियान फिर भी खतरे में सेहत
November 4, 2020 • Raj Kumar Mali

जहाजपुर (हलचल) । उपखंड क्षेत्र में जैसे-जैसे दिवाली का त्यौहार नजदीक आते ही मिठाई सहित अन्य खाद्य पदार्थों की मांग काफी बढ़ गई है। ओर सार्वजनिक स्थानों पर खाद्य सामग्री खुले में बिक रही है। त्यौहार नजदीक होने के कारण मिठाइयों में जमकर मिलावट हो रही है। इससे लोगों के स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ सकता है। लेकिन विभाग द्वारा अभी तक दुकानों पर जांच कार्य शुरू नहीं किया गया है। जिससे दुकानदार बेखौफ होकर मिलावटी मिठाई व अन्य खाद्य सामग्री बेच रहे हैं। राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में मिलावटखोरों के खिलाफ ‘शुद्ध के लिये युद्ध’ अभियान चलाया जा रहा है लेकिन जिम्मेदारों द्वारा चुप्पी साध लेने से मिलावटियों पर शिकंजा नहीं कसा जा रहा है।

               देखा जाए तो त्योहारों में आमतौर पर मिठाई नहीं खाने वाले लोग भी खरीदारी करते हैं। मांग की तुलना में आपूर्ति कम होने का फायदा उठाने का मौका व्यवसायी-दुकानदार नहीं चूकते है और मिलावटी मिठाई का धंधा शुरू हो जाता है। राज्य सरकार द्वारा आमजन के स्वास्थ्य की चिंता करते हुए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाया जा रहा है उसके बावजूद नगर में भी इन दिनों मिलावटी मिठाई का कारोबार जोरों पर है, जो स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदेह है। सबसे बड़ी बात यह है कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसे रोकने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाया जा रहा है। कहने के लिए फूड सेफ्टी विभाग तो है, लेकिन खाद्य पदार्थों की दुकानों की लगातार जांच व छापेमारी नहीं होती है। इसके चलते ही मिलावटखोरों के हौसले बुलंद हैं। सूत्रों की माने तो त्यौहारी सीजन में जमकर नकली मावा खपाया जाता है। दीपावली के त्यौहार को कुछ ही दिन शेष रह गए हैं, लेकिन खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने अब तक मिठाई दुकानों की जांच कार्रवाई शुरू नहीं की है।