ALL भीलवाड़ा हलचल प्रदेश हलचल देश हलचल चित्तौडग़ढ़ हलचल विदेश मध्यप्रदेश हलचल राजसमंद हलचल कारोबार मध्य प्रदेश राशिफल
ट्राफिक लाइट को 7 दिन मंे चालू करने का निर्देश दिया नगर परिषद आयुक्त को
October 28, 2020 • Raj Kumar Mali

 भीलवाड़ा हलचल। / भीलवाड़ा जिला सड़क सुरक्षा एवं यातायात प्रबन्धन समिति की चालू वर्ष 2020-21 की द्वितीय त्रौमास की बैठक बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में  जिला कलक्टर एवं अध्यक्ष जिला सड़क सुरक्षा एवं यातायात प्रबन्धन समिति   शिव प्रसाद एम. नकाते की अध्यक्षता एवं जिला पुलिस अधीक्षक श्रीमति प्रीति चन्द्रा तथा अन्य हितधारक विभागों के अधिकारियों एवं संस्थाओ के प्रतिनिधियों के सानिध्य में सम्पन्न हुई। हितधारकों में मुख्य रूप से प्रशासन एवं की ओर से अतिरिक्त कलक्टर शहर रिछपाल सिंह बुरड़क, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के तकनीकि मेनेजर देवेन्द्र्र कुमार बंसल, नगर परिषद आयुक्त श्रीमती दुर्गा कुमारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. मुश्ताक खान, नगर विकास न्यास के अधीक्षण अभियंता   रामेश्वर लाल शर्मा, खनिज विभाग से खनिज अभियंता आसिफ अंसारी एवं सहायक खनिज अभियंता   डी.एस मीणा, शिक्षा विभाग से मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी  ब्रम्हाराम चैधरी, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सहायक निदेशक  गौरीकान्त शर्मा, पुलिस उपअधीक्षक शहर  भंवर रणधीर सिंह, जिला परिवहन अधिकारी शाहपुरा   राजीव त्यागी, पूर्व यातायात पुलिस प्रभारी एवं थाना अधिकारी श्रीमती पुष्पा कसौटिया, यातायात पुलिस उपनिरिक्षक श्री जगमाल सिंह ,राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम से यातायात प्रबन्धक  आर.के. वर्मा , ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन अध्यक्ष  विश्वबन्धु सिंह, बस प्रतिनिधि के रूप में निर्मल मेहता,  सहित आॅटो यूनियन के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
         बैठक मंे पूर्व की बैठकों में लिये गये निर्णयों की पालना न करने वाले विभागों के अधिकारियों पर अध्यक्ष जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने नाराजगी जाहिर की।   
शहर के सभी मुख्य जंक्शनों पर ट्राफिक लाईट क्रियाशील करने के लिए समय सीमा निर्धारित करते हुए दो ट्राफिक लाइट को 7 दिन मंे चालू करने शेष 3 जंक्शनों पर ट्राफिक 15 दिन में लाईट चालू करने का निर्देश नगर परिषद आयुक्त को दिया गया। पुलिस अधीक्षक ने भी यातायात पुलिस , नगर विकास न्यास , परिवहन विभाग एवं नगर परिषद को सुयुक्त रूप से एसे अन्य जंक्शनों पर भी जहां ट्राफिक लाईट लगानेकी आवश्यकता है े स्थान चिन्हित कर अगली बैठक से पूर्व प्रस्तुत करने हेतु कहा। शहर में निर्धारित रोड चिन्ह एवं मार्किग लगाने पार्किंग स्थल, नो वहिकल जोन , साईलेन्स जोन आदि हेतु उप समिति की अनुशंसा पर कुछ को हटा कर अनुमोदन किया गया। शहर में साईलेन्स जोन में ओवर ब्रिज, कलक्ट्रेट से सेशन कोर्ट एवं आसपास का क्षैत्रा राजेन्द्र मार्ग उच्च माध्यमिक विद्यालय, एमएलवी काॅलेज, से.मु.मा. राजकीय महाविद्यालय एवं उच्च माध्यमिक विद्यालय एवं समस्त महाविद्यालय एवं विद्यालयों के आसपास का क्षैत्र महात्मा गांधी चिकित्सालय एवं समस्त चिकित्सालयों के आसपास के क्षैत्रा को शामिल किया गया है।
         इसी प्रकार शहर चैपहियां वाहनों, दुपहियां वाहनों, पिकअप, टेम्पो आॅटो पर्किंग, हाथ ठेला स्टेण्ड, विडियो कोच बस आदि के पार्किंग स्थलों पर भी चर्चा कि गई जिसमें आजाद चैक आर्युवेद चिकित्सालय के बाहर , बालाजी मार्केट सहित अन्य कई स्थलों को समिति द्वारा अन्तिम रूप दे कर अधिसूचना जारी करने हेतु निर्देशित किया गया।
          यातायात बाधित करने वाले आवारा पशुओं पर की गई कार्यवाही करने के लिए भी निर्देशित किया गया , पूर्व बैठक में बीओटी आधारित बस/आॅटो शेल्टर की स्थापना के निर्णय की अनुपालना अभी तक नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए राजस्व अर्जन के साथ बीओटी पर 1 दिसम्बर से पूर्व बस शेल्टर स्थापित करने के निर्देश दिए गये इसमें 8 शेल्टर नगर परिषद एवं 7 शेल्टर नगर विकास न्यास द्वारा बनाए जाने है जिसमें से नगर विकास न्यास के अधीक्षण अभियन्ता ने बताया की उनकी ओर से 3 शेल्टर बनाए जा चुके है 7 और बनाए जाने प्रस्तावित है ।
           नगर विकास न्यास को पूर्व बैठक में लिये गये निर्णय अनुसार शहर में पब्लिक, प्राइवेट एवं पब्लिक एण्ड प्राइवेट पार्टनरशिप में सशुल्क पार्किंग स्थल निर्धारित कर विकसित करने के लिए नगर विकास न्यास को नगर परिषद से मिल कर पालना करने हेतु निर्देशित किया गया। शहर के पार्को में कुछ स्थान चिन्हित कर आॅटोमेटेड पार्किंग बनाने का प्रस्ताव तैयार करने हेतु भी निर्देशित किया गया।  अति. जिला कलक्टर शहर की अध्यक्षता गठित समिति को प्रस्ताव बनाने हेतु पाबन्द किया। नगर विकास न्यास को ड्राइविंग ट्रेक की बाऊन्ड्री वाॅल एवं  एप्रोच रोड़ शीर्घ बनाने , ट्राफिक पार्क के सदुपयोग हेतु परिवहन विभाग के माध्यम से अन्य संस्थाओं के द्वारा सड़क सुरक्षा प्रशिक्षण शुरू करने एवं उसका सुदृढीकरण करने हेतु निर्देशित किया गया।जिला परिवहन कार्यालय, भीलवाड़ा में लाईसेन्स आवेदकों एवं ट्राफिक

ओफेन्डर्स की काउसलिंग एवं ट्रेनिंग हेतु प्रशिक्षण हाॅल शीघ्र बनाने हेतु नगर विकास न्यास के क्षेत्रा में स्थित ब्लेक स्पाॅट बस स्टेण्ड चैराहा को दुरूस्त करने हेतु निर्देशित किया गया।
           राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियो को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 27 एवं 758 पर आए दिन होने वाली सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के समुचित उपाय करने के लिए टोल प्रबन्धकों को पाबन्द करने हेतु निर्देशित किया गया तथा टोल प्रबन्धन पुलिस से हाईवे पेट्रोलिंग वाहन शेयर कर 24’7 पेट्रोलिंग बढाने हेतु निर्देशित किया गया । अनाधिकृत एवं दुर्घटना को सीधा निमंत्राण देने वाले मिडियन आॅपनिंग कट को बन्द करने हेतु निर्देशित किया साथ ही आरओडब्लू में हुए अतिक्रमण को प्रशासन से मिल कर हटाने हेतु निर्देशित किया गया । राष्ट्रीय राजमार्गाे पर व्यवसायिक गतिविधियों के नियंत्रण हेतु 26.06.2020 को सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जारी गाईड लाईन की सतप्रतिशत पालना करने हेतु निर्देशित किया गया। गांवों से मिलने वाली सडकों पर स्पीड नियंत्राण एवं लेन ड्राइविंग तथा गतिसीमा के बोर्ड लगाने हेतु निर्देशित किया गया।
           सार्वजनिक निर्माण विभाग के   अधीक्षण अभियंता की अध्यक्षता मेें गतिसीमा  निर्धारण हेतु गठित उप समिति की अनुशंसा रिपोर्ट का अनुमोदन करते हुए  अधिसूचना जारी करने का ड्राफ्ट प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया गया।  2019 तक चिन्हित ब्लेक स्पाॅट को शीघ्र दुरूस्त  करने एवं एसएच 12 पर शाहपुरा के पास स्थित ब्लेक स्पाॅट को दुरूस्त कर रिपाॅर्ट प्रस्तुत करने हेतु कहा। अधीक्षण अभियन्ता ने बताया कि जिले की ग्राम सड़क को छोड कर सभी सडको एवं अजमेर पुलिया की थर्डपार्टी रोड़ सेफ्टी आॅडिट हेतु 2.70 लााख का प्रस्ताव केन्द्रीय सड़क अनुसंधान संस्थान,नई दिल्ली प्राप्त हुआ है अध्यक्ष  ने अजमेर पुलिया एवं आरोली टोल से सलावटीया चैराहा तक थर्डपार्टी आॅडिट डीएमएफटी फण्ड से कराये जाने हेतु निर्देशित किया है।  
           जिले में स्टेपलाईज यूनिट एवं ट्रोमा सेन्टर की स्थापना की प्रगति पर असंतोष जाहिर करते हुए जल्द इस पर कार्यवाही करने हेतु सीएमएचओ को निर्देशित किया गया। एम्बूलेन्स के किराये के निर्धारण के लिए जयपुर झालावाड की तर्ज पर कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया तथा गुड सेमेरिटन गाईड लाईन का प्रचार प्रसार हेतु निर्देशित किया गया एवं घायलों की मदद करने वाले सड़क के फरिश्तो को जिला सड़क सुरक्षा एवं यातायात प्रबन्धन समिति की बैठक या कियी अन्य समारोह में सम्मानित करने हेेतु निर्देशित किया गया।
           जिला कलक्टर ने सीट बेल्ट एवं हेलमेट अनिवार्यता हेतु पुलिस एवं परिवहन विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि माह में कम से कम एक सप्ताह एजुकेशन एंड एनफाॅर्समेन्ट ड्राइव चलाया जाए। सरकारी कार्मिकों के साथ साथ ग्राम पंचायतों में पंचायतराज विभाग, पुलिस एवं परिवहन विभाग मिलकर पंचायत राज चुनाव के बाद सडक सुरक्षा जनजागरूकता शिविर लगावें। आगामी विश्व स्मरण दिवस दिनांक 15.11.2020 को जिले के समस्त पुलिस थानों में पिछले वर्षाे मे थानाक्षेत्रों में सडक दुर्घटनाओ में मारे गये व्यक्तियों को श्रद्धांजली देने का कार्यक्रम आयोजित करे एवं पीडित परिवारों से अपील करवाने तथा घायलों की मदद करने वालों को सम्मान देने हेतु निर्देशित किया गया। एनएच 758 भीलवाडा से लाडपुरा खण्ड को सुरक्षित स्ट्रेच बनाने हेतु एचआई सहित अन्य विभागों से मिल कर विशेष स्ट्रेटजी के साथ कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया।
            खनन श्रमिकों को माइनिंग एवं सडक सुरक्षा की ट्रेनिंग दिला कर उन्हे रियायती दर पर ब्राण्डेड हेल्मेट उपलब्ध कराने, ट्रेक्टर ट्रोलियों पर रिफ्लेक्टिव टेप लगाने का अभियान चलाने तथा अवैध बजरी परिवहन मे प्रयुक्त अपंजीकृत ट्रोली का बिल एवं पंजीयन के आवेदन के दस्तावेज प्रस्तुत करने के बाद ही रिलिज करने हेतु निर्देशित किया गया।
          राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम को निर्देश दिये गये कि जिले में कोई भी ग्राम पंचायत परिवहन सेवा से वंचित न रहे इसके लिए परिवहन एवं पंचायत राज विभाग से मिल कर सुनिश्चित करें।
उपखण्ड स्तरीय सडक सुरक्षा समितियों को भी क्रियाशील कर नियमानुसार त्रौमासिक बैठके आयेजित करने हेतु निर्देशित किया गया।
          सडक सुरक्षा हेतु नोडल विभाग होन के नाते सभी हितधारक विभागों से लगातार समन्वय बनाकर निर्णयो की अनुपालना कराने हेतु परिवहन विभाग को निर्देशित किया। अपंजीकृत ट्रेक्टर-ट्रोलियों के मामले में व्यवसायिक उपयोग में आने वाली ट्रोलियों के अधिक से अधिक व्यवसायिक पंजीयन कराने हेतु केम्पेन चलाए। आजाद नगर में स्थित ट्राफिक पार्क का आम जन में अधिक से अधिक सदुपयोग हो इसके लिए कार्ययोजना बनाने हेतु निर्देशित किया गया।
            अन्य ओद्योगित संस्थानों से मिल कर हेल्मेट प्रोत्साहन शिक्षा जागरूकता अभियान के अन्तर्गत रियायती दर पर  ब्राण्डेड हेल्मेट उपलब्ध करा कर अधिक से अधिक सडक सुरक्षा अग्रदूत बनाने हेतु निर्देशित किया गया। जिले मे लगातार एजुकेशन एनफाॅर्समेन्ट, हेल्थ एवं इन्जीनियरिंग ड्राइव हेतु गतिविधियां आयोजित करने हेतु निर्देशित किया गया। रोड़ एक्सीडेन्ट इन भीलवाडा 2019 पुस्तिका को शीघ्र प्रकाशन कर हितधारको को उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया तथा भीलवाडा सड़क सुरक्षा सोसायटी के राज्य सरकार से स्वीकृति प्राप्त होते है पंजीयन कराने हेतु निर्देशित किया गया। जिले में राष्ट्रीय राजमार्गाै पर स्पीड नियंत्रण हेतु सडक सुरक्षा फण्ड से पुलिस के लिए 4 इन्टरसेप्टर वाहन मगाये जाने हेतु प्रस्ताव भेजने के लिए निर्देशित किया गया अध्यक्ष महोदय ने यह भी निर्देश दिये की सडक

दुर्घटना में मृत्यु होने पर मुख्यमंत्री सहायता कोष से 1 लाख रूपये दिये जाते है जिसका व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए।